SIP kya hai : म्युचुअल फंड की SIP के क्या हैं शानदार फायदे, जानें यहां

SIP kya hai : Systematic Investment Plan निवेश का ऐसा अनुशासित माध्‍यम है, जिससे कोई निवेशक एक तय समय के अन्‍तराल पर म्‍यूचुअल फंड में पैसे लगाता है।

SIP full form : SIP यानी एसआईपी का फुल फॉर्म सिस्‍टमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान है। SIP meaning in Hindi : सिप का हिन्‍दी में मतलब नियमित निवेश योजना से है। 

Advertisement

म्‍यूचुअल फंड की किस स्‍कीम में आप निवेश करना चाहते हैं? कितना अमाउंट इन्‍वेस्‍ट करना चाहते हैं? महीने की किस तारीख पर एसआईपी के लिए पैसा कटवाना चाहते हैं? म्‍यूचुअल फंड की इक्विटी या डेट स्‍कीम में से किसे चुनना हैं? ये चीजें आप अपनी सुविधा के मुताबिक तय कर सकते हैं।

Is SIP a mutual fund in Hindi : क्‍या एसआईपी म्‍यूचुअल फंड है?

बहुत से लोगों का सोचना है कि एसआईपी या तो mutual fund है या फ‍िर mutual fund से अलग कुछ है। दरअसल, एसआईपी निवेश का एक तरीका है। ये ना तो कोई म्‍यूचुअल फंड है ना कोई स्‍टॉक और ना कोई स्‍कीम।

एसआईपी चुने गए किसी स्‍कीम या फंड में निवेश का जरिया भर है। दूसरे शब्‍दों में, एसआईपी के तहत थोड़ा–थोड़ा पैसा किसी म्‍यूचुअल फंड की किसी स्‍कीम में हर महीने की निश्चित तारीख पर निवेश होता रहता है।

ये भी पढ़ें- Mutual fund kya hain | What is mutual fund in hindi

1-SIP kya hai और क्‍या हैंं लाभ ?

Benefits of SIP : एसआईपी के माध्‍यम से एक निश्चित पैसा हर माह किसी स्‍कीम में एक तय तारीख पर निवेश होता है। इसके तहत कोई व्‍यक्ति 500 रुपये की मामूली रकम से भी एसआईपी शुरू कर सकता है।

बाद में एसआईपी की निवेशित राशि को अपने लक्ष्‍य के मुताबिक बढ़ाया जा सकता है। आंकड़े बताते हैं कि लम्‍बे समय के निवेश में एसआईपी से बहुत अच्‍छा रिटर्न मिलता है।

SIP kya hai  : पैसों का पहाड़ खड़ा करने के लिए नियमित और अनुशासित निवेश करना ही तगड़ा मुनाफा कमाने का कारगर मंत्र है। निवेश का यह तरीका बूंद–बूंद पैसों से घड़ा भरने के मुहावरे को सही साबित करता हैं।

ये भी पढ़ें- लार्ज कैप म्युच्युअल फंड्स क्‍या हैं, इनमें निवेश क्‍यों सुरक्षित है?

2-Rupee cost averaging : एवरेजिंग क्‍या है?

Rupee cost averaging  :  एसआईपी के निवेश में शेयर मार्केट के उतार चढ़ाव की कोई फ‍िक्र नहीं करनी है। बस नियमित निवेश करते रहना है। इस निवेश में प्रतिमाह यूनिट्स खरीदी जाती हैं। यदि मार्केट नीचे गिरता है तो निवेशक ज्‍यादा यूनिट खरीदता है। और बाजार के ऊपर रहने पर कम यूनिट खरीदी जाती हैं। इस तरह एक लम्‍बे समय बाद एवरेजिंग का लाभ मिलता है, जिसे rupee cost averaging कहते हैं।

3-Power of compounding in Hindi : कंपाउंडिंग का फायदा?

सिप की बेहतरीन बात यह है कि इससे कंपाउंडिंग का फायदा मिलता है। यानी आपको हर महीने मिलने वाले रिटर्न पर भी रिटर्न मिलता है। इस कारण आपकी पूंजी काफी तेजी से बढ़ती है। उदाहरण के तौर पर आप हर महीने 3000 रुपए किसी

म्‍यूचुअल फंड की इक्विटी स्कीम में लगाते हैं। उस पर आपको 12 फीसदी सालाना की दर से रिटर्न मिले, तो 10 साल बाद आपको 697,017 रुपए मिलेंगे।

वहीं, इस एसआईपी को आप 15 साल तक चलाते हैं तो आपको कुल 5 लाख्‍ा 40 हजार के निवेश पर 12 फीसदी की दर से लगभग 15 लाख 13 हजार रुपये मिलेंगे। इसे मैजिक ऑफ कंपाउंडिंग भी कहते हैं।

ये भी पढ़ें- वित्तीय योजना क्या है,कम सैलरी में कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग ?

4-महंगाई से निपटने में कारगर

SIP kya hai  : महंगाई से अपने निवेश को सुरक्षित रखने में एसआईपी बेहद कारगर है। लम्‍बे समय में 12 से 15 प्रतिशत रिटर्न की उम्‍मीद आप एसआईपी से ही कर सकते हैं।

यदि महंगाई 6 प्रतिशत सालाना है और महंगाई की यही दर अगले 15 साल तक बनी भी रहती है तो आपको सालाना 6 प्रतिशत रिटर्न का pure profit होगा।

financial goal kaise banaye : निवेश के लक्ष्‍य तय करें

SIP kya hai  :  एसआईपी को आप अपने फाइनेंशियल गोल से जोड़ना चाहिए। ये Financial goal जैसे मकान खरीदना, बच्चों की पढ़ाई के लिए फंड जुटाना, रिटायरमेंट के बाद के लिए खर्च के लिए पैसे जुटाना हो सकता है।

आपको किस वक्‍त कितना पैसा चाहिए, इसका मोटा अंदाजा लगाकर निवेश तय करें। लक्ष्य तय करने पर ही आपको पता चलेगा कि हर महीने आपको कितनी बचत करनी है।

उदाहरण के तौर पर माना कि आपको 15 साल बाद अपने बच्‍चे के एजूकेशन के‍ लिए 20 लाख रुपये की जरूरत है। तब आपको प्रतिमाह 4000 रुपये की एसआईपी करनी होगी।

ये भी पढ़ें-  Fixed deposit free gift : बेटी के नाम 11 हजार की FD करेगी ये संस्था

म्‍युचुअल फंड की स्‍कीम्‍स में ऑनलाइन निवेश के लिए आपको डीमैट अकाउंट खोलना होगा। इसके लिए NJ India Invest Ltd में E Wealth Account  पर जाकर रजिस्‍ट्रेशन करें। यहां पैन कार्ड, आधार अपलोड कर अपना केवाईसी प्रोसेस पूरा करें।

आपके ईमेल पर अकाउंट का कन्‍फर्मेशन आते ही आप निवेश के लिए तैयार हो जाएंगे। किसी तरह की असुविधा होने पर आप 7860678995 पर WHATSAPP संपर्क कर सकते हैं। इस पर आपको फ्री सलाह दी जाएगी।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!