वित्तीय योजना क्या है,कम सैलरी में कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग ?

वित्तीय योजना क्या है  : अजय 26 साल के युवा है। उन्‍हें प्राइवेट नौकरी करते 2 साल हो चुके हैं। उनकी सालाना सैलरी 8 लाख रुपये है। वह अपने पैरेंट्स के साथ रहते हैं और शादी के लिए लड़की भी ढूंढ रहे हैं।

Advertisement

अजय का अभी सब कुछ अच्‍छा चल रहा है। लेकिन इतना कमाने के बावजूद भी वे पैसों का निवेश नहीं कर पा रहे हैं। यहां तक कि इनकम टैक्‍स के सेक्‍शन 80 सी के तहत होने वाला निवेश भी बमुशिकल हो पाता हैं। कार्यालय में कटने वाला पीएफ अमाउंट ही बचत का एकमात्र जरिया है। कुल मिलाकर अजय निवेश करने के मामले में बहुत सुस्‍त है।

अब उन्‍हें साल 4 से 5 साल में शादी भी करनी है। अभी वे किराये के मकान में रहते हैं लेकिन उन्‍हें रहने के लिए एक फ्लैट भी खरीदना है। इन खर्चों के लिए उन्‍हें भारी पैसों की जरूरत पड़ेगी। जब अजय को इसका ख्‍याल आया तो वे सोच में पड़ गए। शादी और उसके बारे में होने वाले खर्चों के बारे में सोचा ही नहीं।

आइये जानते है कि अजय को कितना निवेश करना चाहिए ताकि वे अपनी भविष्‍य की योजनाओं को परवान चढ़ा सके।

यह भी पढ़ें-Tax saver elss fund से कैसे बचाएं टैक्‍स? 6 कारणों से बेस्‍ट हैं ELSS में निवेश

वित्तीय योजना बनाने की प्रक्रिया

।- पहले निवेश, फि‍र करें खर्च

वित्तीय योजना क्या है : अजय की 66 हजार प्रतिमाह की सैलरी है। उन्‍हें अपने फालतू खर्चों पर लगाम लगानी होगी। उन्‍हें अपनी सैलरी का कम से कम 30 प्रतिशत निवेश में लगाना चाहिए। ये रकम 22 हजार रुपये प्रतिमाह होती है।

अजय को सबसे पहले पैसा बचाने की आदत डालनी होगी। इसके लिए उन्‍हें बचत और निवेश के लिए 22 हजार रुपये अलग से निकाल देने चाहिए। अजय को पहले निवेश बाद में खर्च का फार्मूला अपनाना होगा। इसके लिए वे जिन साधनों में निवेश कर रहें हों उनका बैंक से ईसीएस करवाना होगा। इससे महीने के शुरू में ही निवेश का पैसा अलग हो जाएगा।

2-निवेश में अनुशासन जरूरी

वित्तीय योजना क्या है : निवेश में अनुशासन का होना बेहद जरूरी है। 22 हजार में से 15 हजार रुपये उन्‍हें म्‍युचुअल फंड में एसआईपी के जरिए लगाना चाहिए। उन्‍हें 5 हजार रुपये में एक अच्‍छे लार्जकैप, दूसरे 5 हजार में एक अच्‍छे मल्‍टीकैप फंड और अगले 5 हजार में एक उम्‍दा ईएलएसएस फंड में प्रतिमाह निवेश करना चाहिए।

ईएलएसएस फंड में निवेश से अजय अपने टैक्‍स संबंधी बचत को पूरा कर सकते हैं। इनमें तीन साल का लॉकइन पीरियड खत्‍म होने के बाद ही पैसा निकाला जा सकता है।

यह भी पढ़ें- What is SIP and its benefits : जानें, एसआईपी और इसके फायदे

3- इन्वेस्टमेंट कहां करे

इन्‍वेस्‍टमेंट कहां करे : लार्ज कैप के फंड में वोलेटैलिटी कम होती है। इनमें 5 साल बाद अच्‍छे रिटर्न मिलते हैं। वहीं मल्‍टी कैप फंड 7 साल से 10 साल की अवधि में उम्‍दा प्रदर्शन करते हैं।

निवेश के 22 हजार में अब बचे 7 हजार रुपये। इन 7 हजार रुपये में 2 हजार रुपये रिकरिंग डिपॉजिट, 2 हजार रुपये पीपीएफ अकाउंट और 2 हजार रुपये लिक्विंड फंड में प्रतिमाह निवेश करें। अब बचे एक हजार रुपये वे अपने बैंक के सेविंग अकाउंट में प्रतिमाह जमा रखें।

नौकरी जाने और किसी इमरजेंसी जरूरत के वक्‍त लिक्विड फंड का पैसा अजय के काम आ सकता है। अजय लिक्विड फंड को इमरजेंसी फंड के तौर पर इस्‍तेमाल कर सकते हैं। उन्‍हेें कम से कम छह माह खर्च का इमरजेंसी फंड बनाना होगा ।

चूंकि अजय की पहली जरूरत शादी का खर्च पूरा करने की रहेगी। इसलिए 5 साल बाद लार्ज कैप और मल्‍टी कैप फंड से अजय पैसा निकाल सकते हैं। इनमें भी वो 4 साल पुरानी एसआईपी यूनिट्स को बेचकर मुनाफ कमा सकते हैं। उन्‍हें ईएलएसएस फंड में निवेशित रकम को हाथ लगाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

यह भी पढ़ें- Emergency fund in mutual fund : नौकरी जाने पर इस फंड से करें खर्च

लार्जकैप फंड से कितना मिलेगा रिटर्न?

5 हजार रुपये की प्रतिमाह एसआईपी से  5 साल में लार्जकैप फंड में 3 लाख रुपये निवेशित हो जाएंगे। 5 साल बाद 12 प्रतिशत के अनुमानित रिटर्न पर 3 लाख रुपये 4 लाख 5 हजार 518 रुपये हो जाएगा। ये धनराशि मूल धन का 1.35 गुना होती है।

मल्‍टीकैप फंड से कितना मिलेगा रिटर्न?

मल्‍टीकैप फंड में 5 हजार रुपये की प्रतिमाह एसआईपी के बाद इसमें 3 लाख रुपये जमा हो जाएंगे। 5 साल बाद 14 प्रतिशत के अनुमानित रिटर्न पर 3 लाख रुपये 4 लाख 26 हजार में तब्‍दील हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें- Liquid funds में निवेश दिलाएं Saving और Bank FD से ज्‍यादा रिटर्न

पोस्‍ट ऑफ‍िस  की आरडी से कितना मिलेगा रिटर्न?

पोस्‍ट ऑफ‍िस में आरडी की ब्‍याज दर 5.8 प्रतिशत सालाना है। 5 साल में आरडी में निवेशित 1 लाख 20 हजार रुपये करीब  1 एक लाख 30 हजार रुपये हो जाएंगे।

इस तरह 5 साल बाद अजय के पास एसआईपी और आरडी के रिटर्न मिलाकर 10 लाख रुपये हो जाएंगे। इन पैसों से अजय अपनी शादी कर सकते हैं। इसी प्रकार वे योजना बनाकर फ्लैट के लिए जरूरी 40 लाख रुपया भी जोड़ सकते हैं।

अभी हमने ईएलएसएस फंड से प्राप्‍त रिटर्न को शामिल ही नहीं किया। इसे अजय ने फ्लैट खरीदने के लिए सुरक्षित रखा है।

Insurance jaruri hai : हेल्‍थ और टर्म इंश्‍योरेंस क्‍यों खरीदें

Insurance jaruri hai : अजय को सबसे पहले या निवेश के दौरान एक अच्‍छी हेल्‍थ पॉलिसी जरूर ले लेनी चाहिए। ताकि बीमार पड़ने और अस्‍पताल में भर्ती होने की स्थि‍ति में उनके निवेश को ग्रहण न लगें। चूंकि पैरेंट्स भी अजय पर आश्रित है इसलिए अजय को अपने लिए एक 1 या 2 करोड़ का टर्म प्‍लान भी लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें- How much is health insurance coverage : कितना लें हेल्‍थ इंश्‍योरेंस कवर ?

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो कमेंट बॉक्‍स में कमेंट करें। साथ ही हमारे फेसबुक पेज पर जाकर लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!